NEET-UG Paper Case / परीक्षा रद्द नहीं की जानी चाहिए... NTA का NEET मामले में SC में हलफनामा

Vikrant Shekhawat : Jul 10, 2024, 06:30 PM
NEET-UG Paper Case: नीट-यूजी पेपर मामले में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है. इसमें पेपर लीक पर जवाब दिया है. एनटीए ने कहा है कि सभी राज्यों में पेपर लीक नहीं हुआ है. पूरी परीक्षा को रद्द नहीं किया जाना चाहिए. यह व्यापक नहीं है. परीक्षा की गरिमा प्रभावित नहीं हुई है. इस मामले में शाम 7 बजे सीबीआई और केंद्र सरकार भी हलफनामा दाखिल करेगी. साथ ही एनटीए अतिरिक्त हलफनामा भी दाखिल करेगी.

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अपने हलफनामे में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने कहा है, सिस्टमैटिक फेलियर नहीं हुआ है. गोधरा में ओएमआर शीट का कोई मसला सामने नहीं आया है. बीते दिन सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सरकार और एनटीए से कहा था कि हम पेपर लीक के लाभार्थियों की संख्या जानना चाहते हैं. ये भी बताएं कि उनके खिलाफ क्या कार्रवाई की गई है.

ये बात तो साफ है कि पेपर लीक हुआ है

देश की सर्वोच्च अदालत ने सुनवाई के दौरान ये भी कहा था कि ये बात तो साफ है कि पेपर लीक हुआ है. सरकार ये बताए कि पेपर लीक के लाभार्थियों की पहचान कैसे करेगी. कोर्ट के सवालों पर एसजी ने कहा था कि हमने हर संभव कदम उठाए हैं. जांच चल रही है. 6 राज्यों में FIR दर्ज हुई हैं.

सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने कही थी ये बात

बीते दिनों इस मामले में केंद्र सरकार ने भी हलफनामा दायर किया था. सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि जब तक ये सबूत नहीं मिल जाता कि पूरे भारत में पेपर लीक हुआ है,वो परीक्षा को रद्द नहीं करना चाहती है क्योंकि रिजल्ट घोषित किए जा चुके हैं. ऐसे में परीक्षा रद्द करना लाखों होनहार परीक्षार्थियों के साथ धोखाधड़ी होगी.

केंद्र सरकार ने कहा था कि जांच में मिली लीड के आधार पर सेंट्रल एजेंसी आगे बढ़ रही है. पेपर लीक के पीछे कौन है, जल्द इसका पर्दाफाश होगा. हर पहलू पर गौर किया जा रहा है. भविष्य में ऐसे मामलों में दोषियों से सख्ती से निपटा जा सके, इसके लिए सरकार सार्वजनिक परीक्षा कानून लेकर आई है.

सीबीआई ने दो लोगों को गिरफ्तार किया

नीट-यूजी पेपर लीक मामले में सीबीआई ने मंगलवार को एक अभ्यर्थी समेत दो लोगों को पटना से गिरफ्तार किया था. इस तरह सीबीआई अबतक 11 लोगों को अरेस्ट कर चुकी है. यह पहली बार है जब सीबीआई ने इस मामले में किसी अभ्यर्थी को अरेस्ट किया है. आरोपी नालंदा का रहने वाला है.

पेपर लीक मामले में सीबीआई ने अबतक बिहार से 8 और गुजरात के लातूर और गोधरा से एक-एक व्यक्ति को अरेस्ट किया है. इसके साथ ही देहरादून से भी एक व्यक्ति को अरेस्ट किया है. नीट यूजी परीक्षा 5 मई को हुई थी. इसमें करीब 24 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे. 4 जून को रिजल्ट आया था. इसके बाद से ही इस पर सवाल उठने लगे. परीक्षा में एक साथ 67 टॉप कर गए. सभी को 720 में से 720 नंबर मिले. ऐसा पहली बार हुआ कि इतनी बड़ी संख्या में छात्रों ने 100 फीसदी नंबर पाए.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER