Gujarat Assembly Election / कांग्रेस गुजरात चुनाव में साइलेंट होकर कर रही काम, इन 5 समुदायों को साध BJP को देगी चोट!

Zoom News : Oct 28, 2022, 09:41 AM
Gujarat Assembly Election: गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Election 2022) को लेकर सभा राजनीतिक पार्टियों ने तैयारी तेज कर दी है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार बचाने की कोशिश में जुटी है, वहीं कांग्रेस 27 सालों बाद एक बार फिर सत्ता में वापसी की तैयारी कर रही है. पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Khadge) के नेतृत्व में हाल ही कांग्रेस केंद्रीय चुनाव समिति की पहली बैठक ढाई घंटे चली और पार्टी गुजरात चुनाव में एक नए सियासी समीकरण के साथ उतरने की कोशिश में जुट गई है.

इन 5 समुदायों को साधने की तैयारी कर रही कांग्रेस

गुजरात चुनाव (Gujarat Election 2022) को लेकर अब कांग्रेस ने ग्राउंड लेवल पर फोकस करने का निर्णय किया है. इसलिए पार्टी (आदिवासी, मुस्लिम, दलित, पिछड़ा वर्ग और पटेल) समुदाय को साधने में लग गई है. कांग्रेस पार्टी कोशिश कर रही है कि बीजेपी को इस बार कड़ा मुकाबला दिया जाए और एक बार सत्ता में फिर वापस आने की कोशिश की जाए.

उम्मीदवारों के चयन में भी इसी समीकरण का ध्यान

कांग्रेस पार्टी गुजरात चुनाव (Gujarat Election 2022) के लिए उम्मीदवारों के चयन में भी इसी समीकरण का ध्यान रख रही है और हाल ही में हुई बैठक में इसी पर चर्चा हुई. चुनाव प्रचार-प्रसार और नारों में भी पार्टी का झुकाव इसी समीकरण की ओर रहेगा. गुजरात चुनाव के मद्देनजर जल्द ही पार्टी के नए अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Khadge)  29 अक्टूबर को आदिवासी बहुल नवसारी का दौरा करेंगे. उनके अलावा, राहुल, प्रियंका और बाकी बड़े नेताओं के कार्यक्रम भी बनाए जा रहे हैं.

डोर टू डोर बांटे गए हैं राहुल के 8 वचन पत्र

हालांकि, कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) गुजरात होकर नहीं गुजरेगी, लेकिन कांग्रेस इसके बावजूद पार्टी को गुजरात में मजबूत करने और अपनी को वोट हासिल करने में लग गई है. पार्टी ने करीब 1.65 करोड़ लोगों को डोर टू डोर राहुल गांधी के आठ वचन पत्र बांटे हैं. इसके अलावा कांग्रेस 31 अक्टूबर से राज्य के पांच क्षेत्रों में 'परिवर्तन संकल्प' यात्रा निकालेगी.

वैसे गुजरात विधानसभा के चुनाव (Gujarat Assembly Election 2022) के लिए अभी तारीखों की घोषणा नहीं हुई है. परिवर्तन संकल्प में राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे, वहीं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्मयंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ तथा वरिष्ठ नेता मुकुल वासनिक पांच अलग-अलग शहरों से इस यात्रा की शुरुआत करेंगे. राज्य के 182 विधानसभा क्षेत्रों में से 175 क्षेत्रों से यह यात्रा गुजरेगी और हर यात्रा करीब एक सप्ताह तक चलेगी. दुसरी पर सत्तारूढ़ भाजपा ने गुजरात गौरव यात्रा का आयोजन किया था, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी के लिए कई रैलियों को संबोधित किया है.

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER