बॉलीवुड डेस्क / पानीपत से हटेगा विवादित सीन, फिर भी फिल्म पर बैन करने की मांग

AajTak : Dec 12, 2019, 11:27 AM

बॉलीवुड डेस्क | फिल्म पानीपत में भरतपुर के महाराज सूरजमल के किरदार को लेकर विवाद हो रहा है। जाट समुदाय का आरोप है कि मूवी में महाराज सूरजमल के किरदार का गलत चित्रण किया गया है। लेकिन लगता है अब पानीपत पर विवाद खत्म होने की ओर है।

दरअसल, पानीपत के प्रोड्यूसर्स फिल्म से विवादित हिस्से को हटाने के लिए राजी हो गए हैं। राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरुप ने बुधवार को PTI से बातचीत में कहा- फिल्म के डिस्ट्रीब्यूर्स ने हमें जानकारी दी है कि फिल्म निर्माता पानीपत के कुछ सीन्स को एडिट करेंगे। प्रोड्यूसर्स मूवी का एडिटेड वर्जन सेंसर बोर्ड को दिखाएंगे।

मंत्री ने पानीपत को बैन करने की मांग

दूसरी तरफ, राज्य के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह निर्माताओं के सीन हटाने की बात को लेकर संतुष्ट नहीं दिखे। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- ''पानीपत में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करते हुए भरतपुर के महाराजा सूरजमल जी जैसे महान पुरुष का चित्रण गलत तरीके से किया गया है। फिल्म में एक सीन के बदलने से काम नही चलेगा, सेंसर बोर्ड से मेरा निवेदन है कि इस फिल्म को पूरे देश में तुरंत प्रभाव से बंद करें।''

जाटों के विरोध के बाद राजस्थान में पानीपत को कमाई में नुकसान हो रहा है। राज्य के कई सिनेमाघरों में प्रोटेस्ट की वजह से पानीपत की स्क्रीनिंग नहीं हो रही है। सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने एक सिनेमाहॉल में तोड़फोड़ भी की थी। राजस्थान के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह दोतासरा, पूर्व सीएम वशुंधरा राजे ने भरतपुर के महाराज सूरजमल के किरदार को गलत ढंग से दिखाने के आरोप लगाए हैं।

सीएम अशोक गहलोत ने भी कड़े शब्दों में कहा था कि फिल्म बनाने वालों को समाज की भावनाओं का ख्याल रखना चाहिए। पानीपत में अर्जुन कपूर ने सदाशिव राव भाऊ का रोल निभाया है। संजय दत्त 1761 में अफगान के राजा रहे अहमद शाह अब्दाली के रोल में दिखे।