चिड़ावा / श्री श्याम सखी दरबार का तीसरा तीज महोत्सव, महिलाओं ने पर्व का लिया आनंद

Zoom News : Jul 29, 2020, 10:46 PM

झुंझुनूं  जिले के चिड़ावा कस्बे की पुरानी बस्ती स्थित हिम्मतरामका निवास श्री श्याम छाया में श्री श्याम सखी दरबार का तीसरा तीज महोत्सव खूब जमा, जिसे कोरोना गाइडलाइन का ख्याल रखते हुए मनाया गया. 

दरबार की संयोजिका रेखा संदीप हिम्मतरामका के संयोजन में हुए कार्यक्रम में सखी दरबार के अलाव के किड्स और गर्ल्स ग्रुप की सदस्यों ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया और एक से बढ़कर एक भजन और सावन गीतों पर शानदार प्रस्तुतियां दी. वहीं इसी दौरान झूले का भी लुत्फ उठाया गया. 

कार्यक्रम में बतौर अतिथि आंखों से दिव्यांग होने के बावजूद आरएएस मैन एग्जाम क्लियर करने वाली प्रतिभा अग्रवाल थीं, जिसको पहले सखी सम्मान से भी नवाजा गया. इस कार्यक्रम का शुभारंभ नूतन विकास शर्मा ने शिव तांडव नृत्य से किया. इसके बाद सुमन जांगिड़ ने आया सावन मेरा मनभावन...., रेखा, सुमन हिम्मतरामका और सुनीता झुंझुनूंवाला ने झूले तो पड़ गए...., सविता—संगीता हिम्मतरामका ने आई बागों में बहार...., कुंदन कटेवा रेखा संदीप हिम्मतरामका ने अच्यूत्म केशवम...., परी शर्मा ने बांके कन्हैया...., काव्या केडिया ने नटखट, नटखट जमुना के तट पर..., किरण केडिया ने तुम हो कारे, मैं हूं गोरे सांवरे...., गल्र्स ग्रुप की कोमल—पूजा ने कान्हा सोजा जरा..., लावण्या मिश्रा और मेघा मिश्रा ने कान्हा माने ना..., रेशू शर्मा ने आयो आयो तीज त्यौहार..., सुनिता सैनी ने पगलियां पालड़ी तथा प्रतिभा ने नैनों वाले ने... आदि पर एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां दी.

कार्यक्रम के सफल आयोजन में ममता हिम्मतरामका, रेखा संदीप हिम्मतरामका, संगीता प्रदीप हिम्मतरामका, नूतन विकास शर्मा, नेहा केडिया, सविता हिम्मतरामका तथा प्राची हिम्मतरामका की सराहनीय भूमिका रही.

ये महिलाएं हुईं शामिल
कार्यक्रम में ममता हिम्मतरामका, सोनिया हिम्मतरामका, संतोष बदनगढ़िया, पुष्पा जांगिड़, वंदना तोला, खुशबू पारीक, मंजू भालोठिया, अनू ठाकुर, मंजू केडिया, मनीषा केडिया, पायल, रजनी केडिया, पिंकी केडिया, ऋतु केडिया, संगीता भगेरिया, सरिता ड्रोलिया आदि शामिल हुईं.

कोरोना गाइडलाइन का रखा ख्याल  - कार्यक्रम के दौरान तीज के महोत्सव से ज्यादा कोरोना गाइडलाइन का ख्याल रखा गया. इस मौके पर सभी महिलाएं मास्क पहनकर कार्यक्रम में शामिल हुई. वहीं कार्यक्रम के दौरान बैठने की व्यवस्था में सोशल डिस्टेंस का ख्याल रखा गया. वहीं कार्यक्रम के आरंभ और समापन के अलावा बीच—बीच में भी सेनिटाइजर भी किए गए. रेखा संदीप हिम्मतरामका ने बताया कि कार्यक्रम में महिलाओं, बच्चों और परिजनों को कोरोना से बचाव के उपाय भी बताए गए.

प्रतिभा ने कहा, मेरे जीवन में सखी महत्वपूर्ण
कार्यक्रम में बतौर अतिथि आई और पहले सखी सम्मान से नवाजी गई प्रतिभा अग्रवाल ने भी बात रखी. उन्होंने कहा कि मेरे जीवन में सखी कितनी महत्वपूर्ण है. ये मैं खुद ही जान सकती हूं क्योंकि मेरी एक सहेली ने मुझे नोट्स ऑडियो में बनाकर देने में बड़ी भूमिका अदा की है. लेकिन आज इतनी सारी सखियों का लाड़-प्यार मिला है तो अब मुझमें और भी उत्साह बढ़ा है. पहले मैं मेरे परिवार के सपनों के लिए मेहनत कर रही थी लेकिन अब मैं समाज के साथ—साथ मेरी सभी सखियों के लिए भी मेहनत कर मुकाम हासिल करूंगी.

सखियों ने कृष्ण को झूलाए झूले
कार्यक्रम के दौरान उस वक्त मनोरम दृश्य बन गया, जब कृष्ण बनी पीहू शर्मा को सभी सखियों ने बारी बारी झूले झूलाए. इस मौके पर नटखट कान्हा ने सभी का मन मोह लिया और सखियों ने भी कान्हा के साथ संग झूलों का आनंद लिया.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER