बॉलीवुड डेस्क / CAA पर शत्रुघ्न सिन्हा की नाराजगी, प्रधानमंत्री जरुरी नहीं की वह देश का सबसे का सबसे विद्वान व्यक्ति होता है

ABP News : Dec 21, 2019, 12:32 PM
बॉलीवुड डेस्क | दिग्गज अभिनेता और कांग्रेसी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने भारतीय नागरिकता कानून में संशोधन और देश भर में जगह-जगह पर इसके विरोध के दौरान हो रही हिंसा को लेकर अपना रिएक्शन दिया है। शत्रुघ्न सिन्हा ने इस बारे में बातचीत के दौरान इस कानून के जरिए मुस्लिम समुदाय की उपेक्षा किये जाने पर अपनी नाराजगी जताई और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से इस कानून पर पुनर्विचार करने को कहा।

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, "पड़ोसी देशों में महज हिंदू ही नहीं, मस्लिम भी प्रताड़ित होते हैं और धर्म के आधार पर इस तरह का कानून बनाना सही नहीं है। सरकार का ध्यान असली मुद्दों से भटकाना है।" इसके साथ ही तमाम जगहों पर हो रहे विरोध प्रदर्शनों में हो रही हिंसा की शत्रुघ्न हिंसा की निंदा की। उन्होंने कहा कि बर्बरता चाहे पुलिस करे (जैसा की जामिया में हुआ) या फिर युवा व अन्य प्रदर्शनकारी करें, वो बिल्कुल गलत है और प्रदर्शन शांतिपूर्ण ही होना चाहिए।

शत्रुघ्न ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र ने इससे पहले भी नोटबंदी जैसे तमाम बड़े फैसले बिना सोच-विचार के लिए थे। आज की समस्या अलग हैं, जरूरतें अलग हैं, उनपर ध्यान देने की जरूरत है।" शत्रुघ्न ने ये भी कहा कि उन्हें सूत्रों से पता चला है कि सरकार इस कानून के बारे में अब पुनर्विचार कर रही है।।। देखते हैं, आगे क्या होता है।

बड़े बड़े मसलों पर बॉलीवुड द्वारा चुप्पी साध लेने के सवाल पर शत्रुघ्न ने कहा कि बॉलीवुड पूरी तरह से सेक्युलर है और यह सितारों के भीतर नुकसान पहुंचने का खौफ है कि वो मुद्दों पर चुप्पी साध लेते हैं, मगर इसका मतलब ये नहीं है कि तमाम फिल्मी सितारे लोग अच्छे नहीं हैं। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 से पहले ही शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में शामिल हुए है इससे पहले वो बीजेपी के बड़े नेताओं में शामिल रहे हैं।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER