राजस्थान / बाड़मेर में मां के आंसुओं से पिघला चोर, तीन दिन के मासूम को 17 घंटे बाद सड़क पर छोड़ गया

Zoom News : Jul 10, 2021, 03:45 PM
बाड़मेर। सरहदी बाड़मेर से लेकर राज्य भर में सुर्खियां बनने वाले मासूम सड़क पर लावारिस हालत में मिला। मां के आंसुओं से पिघलकर कथित चोरों ने अबोध को छोड़ दिया। मासूम के बरामद होने के बाद जहां पुलिस ने राहत की सांस ली, वही परिजन भी अपने बच्चे को वापस पाकर बेहद खुश हैं। बच्चे की मां ने उसके कलेजे के टुकड़े को उस तक वापस पहुंचाने के लिए जद्दोजहद करने वाले तमाम लोगों का शुक्रिया अदा किया है।

सरहदी बाड़मेर में शुक्रवार को अलसुबह जिला अस्पताल से चोरी हुए बच्चे के मामले को लेकर पूरे दिन बाड़मेर पुलिस के लिए संकट की घड़ी रही। बाड़मेर जिले में बच्चा चोरी के इस पहले मामले में पुलिस के लिए बच्चे की बरामदगी के साथ साथ उसके सुरक्षित होने को लेकर भी चिंता के बादल मंडराए हुए थे। बाड़मेर पुलिस अधीक्षक आनन्द शर्मा ने मामले को बेहद गम्भीरता से लेते हुए 6 अलग-अलग टीमों का गठन कर 100 से अधिक पुलिस अधिकारियों और कार्मिकों को बच्चे की तलाश में लगा दिया।


चारों ओर सेदेख छोड़ा मासूम

वहीं बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन भी इस मामले पर पैनी नजर रखे हुए थे। सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई बच्चे के फोटो और जानकारी के बाद बच्चे को ले जाने वाले ने खुद को चारों तरफ घिरते देख बच्चे को छोड़ने में ही खुद की भलाई समझी। ऐसे में पूरे दिन बिलखती मां ने मार्मिक अपील कर उनके बच्चे को सकुशल लौटाने की मांग की है। जिसके कुछ ही मिनटों बाद मासूम के सकुशल मिलने के समाचार सुन मां का कलेजा भी खुशी से फूला नहीं समा रहा था।

तीन दिन के अपने बच्चे के सकुशल वापस लौटने के लिए मां कमला राजपुरोहित ने बच्चे के मिलने के दिल से शुक्रिया अदा किया है। बच्चा मिलने के बाद खुशी के आंसुओं से भरी आंखों से कमला ने बताया कि वह सुबह से अपने कलेजे के टुकड़े के लिए तरस रही थी। अब जब 3 दिनों के बाद बच्चा वापस मिल गया है तो यह उसके लिए उसके दूसरे जन्म के बराबर है।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER