लखीमपुर खीरी / प्रियंका गांधी और सांसद दीपेंद्र हुड्डा के साथ योगी पुलिस ने मारपीट की, देखिये वीडियो

Zoom News : Oct 04, 2021, 06:55 AM
यूपी के लखीमपुर खीरी ( Lakhimpur Kheri ) में हुए बवाल के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ( Priyanka Gandhi ) अचानक देर रात लखनऊ पहुंचीं, जिसके कुछ देर बाद लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गईं. हालांकि, साढ़े पांच घंटे बाद प्रियंका को सीतापुर के हरगांव से हिरासत में ले लिया गया. इसके बाद उन्हें सीतापुर के ही गेस्ट हाउस ले जाया गया है. वहीं, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, जयंत चौधरी समेत अन्य विपक्षी नेता सोमवार सुबह लखीमपुर के लिए रवाना होंगे. सूत्रों के अनुसार, पुलिस ज्यादातर नेताओं को लखीमपुर खीरी तब तक नहीं जाने देगी, जब तक घटनास्थल पर हालात बेहतर नहीं हो जाते हैं.

इससे पहले लखनऊ से लखीमपुर ( Lakhimpur ) के लिए निकलने के दौरान उनकी और अन्य कांग्रेसी नेताओं की पुलिस से झड़प भी हुई. पुलिस ने प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाने से रोकने के लिए हाउस अरेस्ट भी किया, लेकिन वह कुछ दूर पैदल चलकर गाड़ी पर सवार होकर लखीमपुर खीरी के लिए लखनऊ से निकल गईं. प्रियंका ने सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए किसानों को कुचलने की राजनीति करने का आरोप लगाया है

प्रियंका गांधी ( Priyanka Gandhi ) के साथ कांग्रेस के कई अन्य नेता भी लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए. जगह-जगह पर प्रशासन और पुलिस का बंदोबस्त किया गया. इस दौरान कई जगहों पर कांग्रेस समर्थकों और पुलिस के अधिकारियों के बीच तीखी नोक-झोंक भी देखने को मिली. पुलिस के अधिकारी कांग्रेसी नेताओं को रोकने की कोशिश करते हुए नजर आए. टोल से कांग्रेसी नेताओं की गाड़ी नहीं निकल सके, इसके लिए पूरे इंतजाम किए गए थे. इस बीच, एक समय ऐसा भी आया, जब प्रियंका गांधी की गाड़ी को यूपी पुलिस ट्रेस करने में नाकामयाब रही. पुलिस के अधिकारी उन्हें रोकने के लिए कई रोडवेज की बसों को भी चेक करते नजर आए

हिरासत में ली गईं प्रियंका गांधी वाड्रा

लखीमपुर खीरी जा रहीं प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi ) वाड्रा को हिरासत में ले लिया गया. सीतापुर के हरगांव से यूपी पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया, जिसके बाद उन्हें सेकंड बटालियन गेस्ट हाउस ले जाया गया. वहीं, यूपी कांग्रेस ने दावा किया कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. यूपी कांग्रेस ने ट्वीट किया, ''प्रियंका गांधी जी को हरगांव से गिरफ्तार करके सीतापुर पुलिस लाइन ले जाया जा रहा है, कृपया सभी लोग पहुंचे.'' यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास ने ट्वीट कर कहा कि आखिरकार वही हुआ, जिसकी बीजेपी से उम्मीद थी. 'महात्मा गांधी' के लोकतांत्रिक देश में 'गोडसे' के उपासकों ने भारी बारिश और पुलिसबल से संघर्ष करते हुए अन्नदाताओं से मिलने जा रही हमारी नेता प्रियंका गांधी जी को हरगांव से गिरफ्तार किया. यह लड़ाई का सिर्फ आरंभ है!! किसान एकता जिंदाबाद.

लखीमपुर खीरी के रास्ते से ही सरकार पर बरसीं प्रियंका

लखीमपुर खीरी ( Lakhimpur Kheri ) के रास्ते से ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बीजेपी और सरकार पर निशाना साधा. प्रियंका ने एक वीडियो में आरोप लगाया है कि इस देश में किसानों को जिस तरह से कुचला जा रहा है, उसके लिए कोई लफ्ज ही नहीं है. कई महीनों से किसान आवाज उठा रहा है कि उसके साथ गलत हो रहा है, लेकिन सरकार सुनने को राजी नहीं है. आज जो हुआ, वह दिखाता है कि सरकार किसानों को कुचलने और खत्म करने की राजनीति कर रही है. यह किसानों का देश है. यह बीजेपी की विचारधारा की जागीर नहीं है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने आगे कहा, ''मैं अपने घर से निकलकर कोई अपराध करने नहीं जा रही हूं. पीड़ित परिवार से मिलकर उनके आंसू पोंछने जा रही हूं. इसमें क्या गलत कर रही हूं. मैंने जब सीओ को बुलाया तब वह छिप रहे थे. अगर सही काम कर रहे थे, तो छिप क्यों रहे?


SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER