Delhi MCD Election Results 2022 / एमसीडी चुनाव में आम आदमी पार्टी को बहुमत, 15 साल बाद BJP सत्ता से हुई बाहर

Zoom News : Dec 07, 2022, 12:51 PM
Delhi MCD Election Results 2022 : दिल्ली नगर निगम (MCD) में पिछले 15 साल से काबिज भाजपा का पत्ता साफ हो गया है। आम आदमी पार्टी (AAP) ने यहां भारी बहुमत से जीत दर्ज की है। स्टेट इलेक्शन कमिशन के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, AAP ने 134 सीटें जीत ली हैं। भाजपा को 104 सीटें मिली हैं। कांग्रेस को 9 और 3 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों की जीत हुई है।


MCD की 250 वार्ड के लिए 4 दिसंबर को वोटिंग हुई थी। बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 126 है। आप की जीत पर अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को बधाई दी। पार्टी ऑफिस में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा- दिल्ली की जनता ने अपने बेटे और भाई को दिल्ली की सफाई और भ्रष्टाचार खत्म करने की जिम्मेदारी दी है। हम पीएम मोदी के सहयोग से विकास करेंगे।


संजय सिंह बोले- लोगों ने कट्‌टर ईमानदार को जिताया

पार्टी के सांसद संजय सिंह ने भाजपा पर हमला बोला है। सिंह ने कहा- अरविंद केजरीवाल कट्‌टर ईमानदार हैं लोगों ने ईमानदार को जिताया है। भाजपा के किले को ध्वस्त करने का काम केजरीवाल ने किया। भाजपा अभी भी कह रही है मेयर हमारा होगा, जबकि उनकी 20-25 सीटें कम हैं। भाजपा खोखा पार्टी है। दिल्ली का मेयर भी हमारा होगा। मैं भाजपा को कहना चाहता हूं कि दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी वालों 17 केंद्रीय मंत्री और 8 मुख्यमंत्री दिल्ली में लगाए फिर भी जनता ने केजरीवाल को जिताया है। यह बहुत बड़ी जीत है।


वहीं, केजरीवाल सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा कि आज दिल्ली के लोगों ने इतिहास रचा है। दिल्ली से नई शुरुआत हुई है। बात निकलेगी तो दूर तलक जाएगी। अब तक भाजपा कहती रही है कि केजरीवाल तो कांग्रेस को हराती है। लेकिन दिल्ली ने दिखा दिया कि भ्रष्टाचार का एक ही काल है। वह है केजरीवाल।


सत्येंद्र जैन के विधानसभा क्षेत्र से AAP का सफाया, सिसोदिया के क्षेत्र में BJP आगे

जेल में बंद केजरीवाल के मंत्री सत्येंद्र जैन के विधानसभा की तीनों सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की है। वहीं, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के क्षेत्र पटपड़गंज में 3 सीटों पर भाजपा और एक सीट पर आप बढ़त बनाए हुए है। दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत की नजफगढ़ विधानसभा सीट में चार वार्ड हैं। इनमें से 3 में भाजपा आगे चल रही है।


लीडपार्टी
जीत
0आम आदमी पार्टी
134
0भाजपा
104
0कांग्रेस
9
0निर्दलीय
3
अब पूरी काउंटिंग को सिलसिलेवार तरीके से समझते हैं...


1. शुरुआत में कभी भाजपा, तो कभी आप आगे रही

सुबह आठ बजे जैसे ही शुरुआती रुझान आए भाजपा और आप में कड़ी टक्कर देखने को मिली। शुरुआती दो घंटे में दोनों दलों की सीटों में 10 से 20 सीटों का अंतर रहा। कभी भाजपा आगे तो कभी आप आगे दिखी। लेकिन सुबह 10.30 बजे के बाद हालात बदले और आप ने भाजपा पर बढ़त बना ली।


2. आप के दफ्तर में सुबह से हलचल, पहले जश्न, मायूसी फिर जश्न

एग्जिट पोल में AAP की जीत के बाद बुधवार सुबह से ही पार्टी के कार्यालय में गहमा-गहमी शुरू हो गई थी। ऑफिस को पीले और नीले गुब्बारों से सजाया गया है। पिछली बार इन्हें सफेद और नीले कलर के गुब्बारों से सजाया गया था। पर जैसे ही रुझान आते रहे आप के दफ्तर में पहले जश्न, मायूसी फिर जश्न का माहौल दिखा।


3. कांग्रेस का दफ्तर सूना रहा, ताला लगा दिखा

कांग्रेस का दफ्तर सुबह से ही सूना रहा। दफ्तर के गेट पर ताला लगा दिखा।


4. भाजपा कार्यालय में सुबह कोई नेता नहीं पहुंचा

भाजपा कार्यालय में सुबह कोई बड़ा नेता नहीं दिखा। कार्यकर्ता बहुत कम दिखे। एक कार्यकर्ता ने कहा कि एग्जिट पोल में आप की बड़ी जीत दिख रही थी। शायद यह इसका ही असर है। लेकिन हमें विश्वास है कि हम 100 से ज्यादा सीटें लेकर आएंगे। हालांकि, जैसे-जैसे नतीजे आते दिखे ऑफिस में हलचल बढ़ गई।


5. इस बार 3% कम हुआ था मतदान

दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डों के लिए 4 दिसंबर को मतदान हुआ था। चुनाव आयोग के मुताबिक, इस बार करीब 50% मतदान हुआ है। 2017 में 53.55% मतदान हुआ था। यानी अब तक के आंकड़ों की तुलना करें तो इस बार 3% तक कम वोटिंग हुई है।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER