राजस्थान / राजस्थान के कोटा, बारां, बूंदी व झालावाड़ में भारी बारिश से बने बाढ़ के हालात

Zoom News : Aug 04, 2021, 12:59 PM
जयपुर: राजस्थान में मानसून की अच्छी बारिश का दौर जारी हैं और भारी बारिश के कारण कोटा संभाग में दर्जनों गांव जलमग्न हो गए वहीं भरतपुर, बारां, बूंदी एवं झालावाड़ जिले में कुछ क्षेत्रों में भी बाढ़ के हालात बन गए है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए आज बताया कि कोटा, बारां, बूंदी एवं झालावाड़ के कुछ इलाकों में भारी बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। प्रशासन को राहत एवं बचाव कार्यों के संबंध में निर्देश दिए हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ एवं सिविल डिफेंस की टीमें मदद कार्य कर रही हैं। सेना से भी संपर्क किया गया है एवं जरूरत पड़ने पर सेना की मदद ली जाएगी।

भरतपुर एवं धौलपुर में अलर्ट

गहलोत ने कहा कि धौलपुर में भी चंबल नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है एवं भरतपुर में अधिक बारिश के कारण के कुछ इलाकों में भी बाढ़ के हालात बन सकते हैं। भरतपुर एवं धौलपुर में भी प्रशासन को अलर्ट पर रखा गया है। आमजन से अपील है कि सावधानी बरतें एवं परेशानी होने पर तुरंत प्रशासन को सूचित करें। उधर भारी बारिश के कारण धौलपुर जिले में चंबल नदी का जलस्तर बढ़ गया है और वह खतरे निशान से 12 मीटर से अधिक ऊपर बह रही है। इस कारण आगरा मुंबईह्यराष्ट्रीय राजमार्ग पर बना पुराना पुल डूब गया वहीं आस पास के कई गांव जलमग्न हो गए।

राज्य में भारी बारिश

इसी तरह कोटा संभाग में भारी बरसात के कारण दर्जनों गांव जलमग्न हो गए। करौली में पांचना बांध में भी पानी आवक जारी रहने से उसके तीन गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही है। इसी तरह बारां, सवाईमाधोपुर तथा जयपुर के बगरु में भारी बारिश के कारण पानी जमा हो जाने से बाढ़ के हालात बनने लगे है। इसके अलावा बूंदी एवं झालावाड़ में भी कई स्थानों पर बाढ़ के हालात बन गए है। हालांकि राहत एवं बचाव दलों को सक्रिय कर दिया गया हैं और वे मौके पर लगे हुए है। उल्लेखनीय है कि राज्य में भारी बारिश एवं वर्षाजनित हादसों में पिछले चौबीस घंटों में करीब दस लोगों की मौत हो गई।

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER