Elon Musk India Visit / इस दिन होगी मस्क-PM मोदी की मुलाकात- बिछ गई 25 हजार करोड़ की बिसात

Vikrant Shekhawat : Apr 11, 2024, 08:12 AM
Elon Musk India Visit: दुनिया की सबसे बड़ी ईवी कंपनी के सीईओ एलन मस्क भारत दौरे पर आ रहे हैं. ये दौरा महीने के तीसरे हफ्ते में यानी राम नवमी के बाद कभी भी हो सकता है. जानकारों की मानें तो इस दौरे पर एलन मस्क देश को 25 हजार करोड़ रुपए के इंवेस्टमेंट का तोहफा दे सकते हैं. यहां पर एलन मस्क टेस्ला की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की स्थापना करेंगे. खबर है कि इसके लिए वह रिलायंस इंडस्ट्री के साथ ज्वाइंट वेंचर कर सकते हैं. वहीं दूसरी ओर टेस्ला की अमेरिकी यूनिट में राइट हैंड कारों की भी प्रोडक्शन शुरू हो चुका है. ताकि उन्हें भारत में लाकर बेचा जा सके. सरकार ने अपनी नई ईवी पॉलिसी के तहत भारत की इंपोर्टेड गाड़ियों पर इंपोर्ट ड्यूटी कम को कर दिया था. आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर एलन मस्क के भारत विजिट को लेकर किस तरह की खबरें सामने आई हैं.

कब आ सकते हैं मस्क

इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली अमेरिकी कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क इसी महीने भारत आ रहे हैं. अपनी भारत यात्रा के दौरान वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगे. सूत्रों का कहना है कि इस दौरान मस्क भारत में टेस्ला की निवेश योजनाओं की भी घोषणा कर सकते हैं. एक सूत्र ने कहा कि महीने के तीसरे सप्ताह में होने वाली यात्रा के दौरान मस्क के साथ कंपनी के अन्य अधिकारी भी आ सकते हैं. मस्क के दौरे की पुष्टि करने के लिए टेस्ला को एक ईमेल भेजा गया था, जिसका फिलहाल कोई जवाब नहीं आया है.

पिछले साल पीएम मोदी से की थी मुलाकात

पिछले साल जून में मस्क ने मोदी की अमेरिकी यात्रा के दौरान उनसे मुलाकात की थी. उस समय मस्क ने कहा था कि उन्होंने 2024 में भारत की यात्रा करने की योजना बनाई है. साथ ही उन्होंने विश्वास जताया था कि टेस्ला जल्द ही भारतीय बाजार में प्रवेश करेगी. उनकी आगामी भारत यात्रा से कुछ सप्ताह पहले सरकार ने एक नई इलेक्ट्रिक वाहन नीति की घोषणा की है. इसके तहत देश में न्यूनतम 50 करोड़ डॉलर के निवेश के साथ मैन्युफैक्चरिंग यूनिट स्थापित करने वाली कंपनियों को आयात शुल्क में रियायतें दी जाएंगी. इस कदम का उद्देश्य टेस्ला जैसी प्रमुख वैश्विक कंपनियों को आकर्षित करना है.

कितना हो सकता है इंवेस्टमेंट

खबरों के अनुसार एलन मस्क शुरुआत चरण में देश में 25 हजार करोड़ रुपए यानी 3 बिलियन डॉलर तक का निवेश कर सकते हैं. ये मैन्युफैक्चरिंग यूनिट भारत की जरुरतों को तो पूरा करेगी ही. साथ ही विदेशी डिमांड को भी पूरा करने में सक्षम होगी. इसकी यूनिट के लिए कई राज्यों से बात की जा रही है. जहां एक ओर मुंबई और गुजरात सरकार की ओर से जमीन देने का ऑफर किया है. वहीं दूसरी ओर टेस्ला की बातचीत तेलंगाना से भी बातचीत चल रही है. कर्नाटक और दूसरे कई राज्यों की ओर से टेस्ला को मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने की ऑफर आ चुकी है. जानकारों की मानें तो टेस्ला का मैन्युफैक्चरिंग प्लांट गुजरात में लगाया जा सकता है.

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER