एनसीपी प्रदेशाध्यक्ष ने बाली में चुनाव पर की चर्चा / बाली का निकाय चुनाव एनसीपी का अगला टारगेट, पंचायत चुनाव में कांग्रेस को दे चुकी है नुकसान

Zoom News : Dec 26, 2020, 07:51 PM
पाली | राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की नजर अब बाली की नगरपालिका सीट पर है। पंचायतराज चुनावों में कांग्रेस बीजेपी के समीकरण बदल चुकी यह पार्टी अब बाली नगर निकाय चुनाव की तैयारियों में जुटी है। इसको लेकर प्रदेशाध्यक्ष उम्मेदसिंह चम्पावत का दौरा फिलहाल चर्चा का विषय बना हुआ है।

एनसीपी पार्टी जयपुर कार्यालय के अनुसार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष उम्मेदसिंह चम्पावत ने बाली विधानसभा क्षेत्र में जनसुनवाई की। उन्होंने क्षेत्र के कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और जनहित के मुद्दों पर स्थानीय अधिकारियों से बात करके उन्हें निस्तारण के लिए निर्देशित किया। हालांकि चम्पावत का यह दौरा आगामी निकाय चुनावों से जोड़कर देखा जा रहा  है क्योंकि प्रदेशाध्यक्ष चम्पावत ने एनसीपी के बैनर तले बाली निकाय चुनाव में प्रत्याशी और चुनावी संभावनाओं को लेकर स्थानीय पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से गहन चर्चा की है। निकाय चुनावों को लेकर श्रीसेला में रविवार को भी चम्पावत एक मंथन बैठक की अध्यक्षता करेंगे और पार्टी की भूमिका को लेकर आगामी रणनीति पर चर्चा करेंगे।

एनसीपी ने बिगाड़ा था कांग्रेस का गणित

हालांकि बाली में 2018 के विधानसभा चुनाव में प्रदेशाध्यक्ष कांग्रेस के साथ गठबंधन के तहत चुनाव लड़े थे, लेकिन नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी पंचायत चुनाव में कांग्रेस का गणित बिगाड़ चुकी है। पूर्व सांसद बद्री जाखड़ ने खुले तौर पर मीडिया से संवाद में भी स्वीकारा की उन्हें एनसीपी की वजह से कई जगह नुकसान हुआ। अब बाली निकाय चुनावों को लेकर एनसीपी की तैयारियां बीजेपी-कांग्रेस दोनों ही प्रमुख दलों के लिए चिंताजनक है।

श्रीसेला में की जनसुनवाई

चम्पावत ने श्रीसेला स्थित कार्यालय में जनसुनवाई करते हुए स्थानीय राजस्व, गोचर से जुड़े मुद्दों के अलावा रेत माफियाओं पर नकेल कसने के लिए अधिकारियों को तत्काल दूरभाष पर बात कर निर्देशित किया। इस मौके पर राशन वितरण में अनियमितता की शिकायत पर प्रदेशाध्यक्ष ने इस विषय को उच्च अधिकारियों के संज्ञान में लाते हुए त्वरित कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है। इस मौके पर नारायणसिंह श्रीसेला, सुमेरसिंह बिलिया, अचलाराम मीणा सेवाड़ी, नरेश देवासी मालारी, वेनाराम, राजेन्द्र फालना, भूराराम, भंवर धणी व निजी सचिव शक्तिसिंह भाटी समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता और नागरिक मौजूद रहे।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER