इंडिया / रसोई गैस एक बार फिर महंगी, बाजार भाव में करीब 15 रुपये की हुई वृद्धि

News18 : Oct 01, 2019, 11:16 AM

नई दिल्ली | सरकार ने 1st अक्टूबर से घरेलू प्राकृतिक गैस (Natural Gas Price) के दाम में पिछले 2.5 साल के दौरान पहली बार कटौती की है. पिछले महीने एक सितंबर को बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस के दाम में 15.50 रुपये का इजाफा किया था. इसके बाद इस महीने रसोई गैस एक बार फिर महंगी हो गई है. यह लगातार दूसरा महीना है जब एलपीजी (LPG) के दामों में बढ़ोतरी हुई है. मंगलवार को रेट बदलने के बाद घरेलू रसोई गैस सिलेंडर (14.2 किलो) के बाजार भाव में करीब 15 रुपये की वृद्धि हुई है.

राजधानी दिल्ली में 14.2 किलो के बिना सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर की कीमत 605 रुपए हो गई है, जबकि 19 किलो वाला गैस सिलेंडर अब 1085 रुपये में रिफिल कराया जा सकेगा. मुंबई में 14.2 किलो का बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 574 रुपये, कोलकाता में 630 रुपये में, जबकि चेन्नई में 620 रुपये में रिफिल कराया जा सकेगा.

तेल मंत्रालय की पेट्रोलियम प्‍लानिंग एंड एनालिसिस सेल (पीपीएसी) के मुताबिक ओएनजीसी और ऑयल इंडिया लिमिटेड (IOCL) द्वारा उत्‍पादित प्राकृतिक गैस की कीमत घटाकर 3.23 डॉलर प्रति मिलियन ब्रिटिश थर्मल यूनिट कर दी गई है. प्राकृतिक गैस का नया दाम 1 अक्‍टूबर, 2019 से अगले छह महीने के लिए प्रभावी होगा. बता दें कि राजधानी दिल्ली में इसकी कीमत 590 रुपये प्रति सिलेंडर (14.2 किलो) पहुंच गई है.

नेचुरल गैस की कीमतें हर छह माह में तय की जाती हैं. हर साल 1 अप्रैल और एक अक्टूबर को गैस की कीमतों में बदलाव किया जाता है. प्राकृतिक गैस का उपयोग उर्वरक बनाने और बिजली पैदा करने में किया जाता है. इसके अलावा इसे ऑटोमोबाइल्‍स में ईंधन के रूप में सीएनजी और घरों में रसोई गैस के रूप में उपयोग के लिए बदला जाता है.