विधान सभा / मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री बने, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पूर्व विदेश सचिव जयशंकर ने भी शपथ ली

Dainik Bhaskar : May 30, 2019, 08:13 PM
  • मोदी के बाद राजनाथ, अमित शाह, गडकरी, सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमण ने शपथ ली
  • तीन साल विदेश सचिव रहे एस जयशंकर को कैबिनेट मंत्री बनाया गया
  • जदयू ने मंत्री पद ठुकराया, नीतीश कुमार ने कहा- सांकेतिक तौर पर सरकार में शामिल होने का कोई मतलब नहीं
  • शपथ ग्रहण समारोह में बतौर मेहमान रतन टाटा, मुकेश अंबानी, नीता अंबानी, रजनीकांत पहुंचे

नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन में दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। दूसरे नंबर पर राजनाथ सिंह और तीसरे नंबर पर अमित शाह ने मंत्री पद की शपथ ली। शाह पहली बार केंद्रीय मंत्री बने हैं। तीन साल विदेश सचिव रहे एस जयशंकर को भी कैबिनेट मंत्री बनाया गया। सुषमा स्वराज को मंत्री नहीं बनाया गया, वे समारोह के दौरान दर्शक दीर्घा में बैठीं। इस बीच, नीतीश कुमार ने कहा कि हम नई सरकार का हिस्सा नहीं बनेंगे। 2014 में 45 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी। हालांकि, बाद में कुल मंत्रियों की संख्या 76 हो गई थी।

कैबिनेट मंत्री


1 राजनाथ सिंह लखनऊ (उप्र)

2 अमित शाह गांधी नगर (गुजरात)

3 नितिन गडकरी नागपुर (महाराष्ट्र)

4 डीवी सदानंद गौड़ा बेंगलुरु उत्तर (कर्नाटक)

5 निर्मला सीतारमण राज्यसभा सदस्य

6 रामविलास पासवान चुनाव नहीं लड़ा

7 नरेंद्र सिंह तोमर मुरैना (मप्र)

8 रविशंकर प्रसाद पटना साहिब (बिहार)

9 हरसिमरत कौर बादल बठिंडा (पंजाब)

10 थावरचंद गहलोत राज्यसभा सदस्य

11 एस जयशंकर पूर्व विदेश सचिव

12 रमेश पोखरियाल निशंक हरिद्वार (उत्तराखंड)

13 अर्जुन मुंडा खूंटी (झारखंड)

14 स्मृति ईरानी अमेठी (उप्र)

15 हर्षवर्धन चांदनी चौक (दिल्ली)

16 प्रकाश जावड़ेकर राज्यसभा सदस्य

17 पीयूष गोयल राज्यसभा सदस्य

18 धर्मेंद्र प्रधान राज्यसभा सदस्य

19 मुख्तार अब्बास नकवी राज्यसभा सदस्य

20 प्रहलाद जोशी धारवाड़ (कर्नाटक)

21 महेंद्रनाथ पांडेय चंदौली (उप्र)

22 अरविंद सावंत मुंबई दक्षिण (महाराष्ट्र)

23 गिरिराज सिंह बेगूसराय (बिहार)

24 गजेंद्र सिंह शेखावत जोधपुर (राजस्थान)

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)


1 संतोष गंगवार बरेली (उप्र)

2 राव इंद्रजीत सिंह गुड़गांव (हरियाणा)

3 श्रीपद नाइक उत्तर गोवा (गोवा)

4 जीतेंद्र सिंह उधरपुर (जम्मू-कश्मीर)

5 किरेन रिजिजू अरुणाचल पश्चिम

6 प्रहलाद पटेल दमोह (मप्र)

7 आरके सिंह आरा (बिहार)

8 हरदीप पुरी राज्यसभा सदस्य

9 मनसुख मांडविया राज्यसभा सदस्

- सुषमा स्वराज भी शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचीं।

- सोनिया गांधी और राहुल गांधी समारोह में शामिल होने पहुंचे।

- शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, प्रकाश सिंह बादल पहुंचे।

- कंगना रानौत अपनी बहन के साथ शपथ ग्रहण में पहुंचीं।

- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समारोह में पहुंचे।

- पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, गुलाम नबी आजाद भी पहुंचे।

- मुकेश अंबानी, नीता अंबानी, रजनीकांत शपथ ग्रहण समारोह में पुहंचे। 

-  लाल कृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह राष्ट्रपति भवन पहुंचे।

- नीतीश ने कहा- भाजपा का प्रस्ताव हमें स्वीकार नहीं है। हम सरकार में शामिल नहीं होंगे। 

- अमित शाह राष्ट्रपति भवन पहुंचे।

साथ मिलकर काम करेंगे, इसमें कोई शक नहीं- नीतीश

नीतीश कुमार ने कहा- वे जदयू से केवल एक व्यक्ति को मंत्रिमंडल में शामिल करना चाहते थे। ये केवल सांकेतिक हिस्सेदारी है। हमने उन्हें सूचित कर दिया है कि हमें यह पद नहीं चाहिए। ये कोई बड़ा मसला नहीं है। हम पूरी तरह से एनडीए में शामिल हैं और कोई परेशानी नहीं है। हम साथ काम करेंगे, इसमें कोई शक नहीं है।

उधर, अपना दल ने भी कहा है कि हम मंत्रिमंडल का हिस्सा नहीं बनेंगे।

ये नेता मोदी से मिलने पहुंचे

डीवी सदानंद गौड़ा, गिरिराज सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, मुख्तार अब्बास नकवी, प्रकाश जावड़ेकर, हरसिमरत कौर बादल, मनसुख मांडविया, नितिन गडकरी, रामविलास पासवान, जितेंद्र सिंह, नित्यानंद राय, निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो, देवश्री चौधरी, रामेश्वर तेली, वीके सिंह, श्रीपद येसो नाइक और रमेश पोखरियाल निशंक समेत कई नेता मोदी के आवास पर पहुंचे। इनमें चौंकाने वाला नाम पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर का है। वे भी मोदी से मिलने उनके आवास पहुंचे।

बापू, अटल और शहीदों को नमन

शपथ से पहले मोदी ने आज सुबह ही महात्मा गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी को उनके समाधि स्थल जाकर श्रद्धांजलि दी। वे शहीदों को नमन करने वॉर मेमोरियल भी पहुंचे। 

बिम्सटेक के सदस्य देशों को दिया गया न्योता

मोदी के शपथ ग्रहण में बिम्सटेक (बे ऑफ बंगाल इनीशिएटिव फॉर मल्टी सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकनॉमिक कोऑपरेशन) के सदस्य देशों को आमंत्रित किया गया है। बिम्सटेक देशों में नेपाल, भूटान, मॉरिशस के प्रधानमंत्री, श्रीलंका, बांग्लादेश, म्यांमार के राष्ट्रपति, थाईलैंड, किर्गिस्तान के प्रमुख शामिल होंगे। इन मेहमानों के पहुंचने का सिलसिला जारी है। पिछली बार सार्क देशों के प्रमुख शामिल हुए थे, जिसमें पाकिस्तान भी शामिल था। इस बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री काे नहीं बुलाया गया है।

इस बार शपथ ग्रहण में 8000 मेहमान

मोदी के शपथ ग्रहण में इस बार देश-विदेश के करीब 8000 मेहमानों को आमंत्रित किया गया है। इस बार यह संख्या सबसे अधिक है। इससे पहले प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण में 3500 से 5000 तक मेहमान हिस्सा लेते रहे हैं।