लोकल न्यूज़/राजस्थान / नागौर-पुजारी हत्याकांड का पूरा खुलासा...पत्नी और भांजे ने मिलकर की थी हत्या

Zoom News : Jan 08, 2021, 10:14 PM
  • पुलिस हत्या के काम में ली गई कुल्हाड़ी बरामद करेगी, पूछताछ भी करेगी

नागौर जिले के मुंडवा में पुजारी की हत्या के आरोपी उसकी पत्नी और भांजे को पुलिस ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से कोर्ट ने दोनों को रिमांड पर सौंप दिया। अब पुलिस इस मामले में उनसे और पूछताछ करेगी। इससे पहले पुलिस हत्या में इस्तेमाल कुल्हाड़ी भी बरामद करेगी। मामी-भांजे ने इसलिए पुजारी की हत्या कर दी थी कि क्योंकि वह दोनों के प्रेम संबंधों में रोड़ा बन रहा था। वारदात के 48 घंटे बाद पुलिस ने हत्यारोपी पत्नी और उसके भांजे को गिरफ्तार कर लिया था।


एसपी श्वेता धनखड़ ने वारदात का पर्दाफाश करते हुए बताया कि हत्या का मुख्य आरोपी जोधपुर के बनाड़ थाना इलाके के दईकड़ा निवासी शंभुदास (21) पुत्र रामपाल साद है। उसने मुंडवा निवासी किरण (30) पत्नी सुरेश के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया। किरण और शंभुदास ने सोमवार रात 12 बजे कुल्हाड़ी से हमला करके सुरेश को मार दिया था।


मृतक सुरेश, शंभू का मामा था। दोनों ने पहले ही हत्या की साजिश बना ली थी। शंभुदास शाम को ही किरण के बुलाने पर कुल्हाड़ी लेकर मुंडवा पहुंच गया था। किरण ने शंभू को नीचे कमरे में छिपाया और कहा कि रात को जब सुरेश बरामदे में सो जाएगा तो वह ऊपर से नीचे एक गिलास पटकेगी। इस इशारे को भांप कर शंभू ने अपने मामा सुरेश की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी। आरोपी पत्नी 4 बच्चों की मां है।


आरोपी बाहर का नहीं, इन बातों से हुआ पक्का शक:

सुरेश के घर की दीवारें ऊंची थी, जिनको आसानी से कूदकर आना-जाना असंभव था। बड़ा सवाल मृतक की पत्नी पास के कमरे में सो रही थी। फिर भी भनक नहीं लगी। उक्त स्थान शोर-शराबे से मुक्त फिर भी भनक नहीं लगने से पुलिस को शक हुआ कि हत्यारा बाहर का नहीं हो सकता है।


कॉल डिटेल और मुखबिरी से चढ़े प्रेमी पुलिस के हत्थे:

एसपी ने बताया एएसपी राजेश मीणा एवं डिप्टी विजय कुमार सांखला के नेतृत्व में एसएचओ बलदेवराम सहित अन्य ने कॉल डिटेल निकाली, जिसमें दोनों की बातें सामने आई। पुलिस को मुखबिर ने भी बताया कि दोनों के संबंध हैं। पूछताछ हुई तो शंभूनाथ फूट पड़ा। किरण ने पहले इनकार किया था।

Booking.com

SUBSCRIBE TO OUR NEWSLETTER